सेमीफाइनल मैच में Rohit Sharma के इन 3 गलत फैसलों की वजह से भारत को करना पड़ा शर्मनाक हार का सामना,वरना आज टीम इंडिया होती फायनल मे..

0

सेमीफाइनल मैच में Rohit Sharma के इन 3 गलत फैसलों की वजह से भारत को करना पड़ा शर्मनाक हार का सामना,वरना आज टीम इंडिया होती फायनल मे..


टी20 विश्व कप 2022 के दूसरे सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की अगुवाई वाली भारतीय टीम को 10 विकेट से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। सुपर-12 में टीम इंडिया ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया और ग्रुप 2 में टॉप पर रही, लेकिन इस अहम मैच में भारत को इंग्लैंड के खिलाफ शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा. रोहित शर्मा ने सेमीफाइनल में कई खराब फैसलों की झड़ी लगा दी, जिससे फाइनल में पहुंचने का भारत का सपना टूट गया. आइए इस लेख के जरिए जानते हैं रोहित के उन खराब फैसलों के बारे में…

इंग्लैंड (IND vs ENG) के खिलाफ मिली शर्मनाक हार में कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का पहला गलत फैसला युजवेंद्र चहल का रहा. टी20 वर्ल्ड कप 2022 के पूरे टूर्नामेंट में रोहित शर्मा ने चहल को एक बार भी खेलने का मौका नहीं दिया. उनकी जगह उन्होंने लगातार रविचंद्रन अश्विन को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया. कप्तान रोहित का ये फैसला उन्हें महंगा पड़ा और टीम इंग्लैंड से 10 विकेट से हार गई.

1. युजवेंद्र चहल (yazuvendra Chahal)  ने अब तक टीम इंडिया के लिए 69 टी20 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 8.12 की इकॉनमी रेट से 85 विकेट लिए हैं। वहीं, युजवेंद्र चहल टी20 क्रिकेट में टीम इंडिया के लिए दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। लेकिन इस प्रदर्शन के बाद भी कप्तान रोहित( Rohit Sharma)ने उन्हें लगातार नजरअंदाज कर सबसे बड़ी गलती की.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Yuzvendra Chahal (@yuzi_chahal23)

2. खराब प्रदर्शन के बावजूद पंत (Rishbh Pant) को मौका क्यों मिला?

इंग्लैंड के खिलाफ करारी हार में कप्तान रोहित का एक और खराब फैसला टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को मौका देना था। सेमीफाइनल मैच में कप्तान रोहित ने दिनेश कार्तिक को नजरअंदाज कर पंत को खेलने का मौका दिया, लेकिन पंत इस मौके को भुना नहीं सके और सस्ते में पवेलियन लौट गए. पूरे वर्ल्ड कप में रोहित ने पंत को 2 मौके दिए लेकिन पंत ने फ्लॉप प्रदर्शन दिखाया. पंत ने 150 की स्ट्राइक रेट से 4 गेंदों पर महज 6 रन की छोटी पारी खेली।

कहा जा रहा है कि अगर रोहित ने आज दिनेश कार्तिक को मौका दिया होता तो वह बल्ले से कुछ कमाल का प्रदर्शन करते और टीम के टोटल में अहम योगदान देते। लेकिन अब रोहित को अपने इस गलत फैसले पर जरूर पछतावा होगा.

Rohit Sharma

3. बार-बार खराब प्रदर्शन के बावजूद अक्षर पटेल (Akshar Patel) को बाहर क्यों नहीं किया गया?

इस लिस्ट में कप्तान रोहित का तीसरा गलत फैसला टीम इंडिया के तेज गेंदबाज अक्षर पटेल को लगातार मौके दे रहा है. दरअसल, विश्व कप के सभी पांच मैचों में अक्षर को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया था, लेकिन उन्होंने 5 मैचों में केवल 3 विकेट लिए। जहां उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ नॉटआउट 21 रन लिए वहीं नीदरलैंड के खिलाफ 18 रन देकर 2 विकेट लिए।

 

बांग्लादेश के खिलाफ उन्होंने 6 रन दिए और कोई विकेट नहीं लिया। उन्होंने सेमीफाइनल मैच में जिम्बाब्वे के खिलाफ 1 विकेट लेकर 40 रन बनाए और इंग्लैंड के खिलाफ 30 रन बनाए और इस दौरान एक भी विकेट नहीं लिया। ऐसे में उन्होंने हर मैच में विकेट लेने से ज्यादा काम किया है. वहीं कप्तान रोहित ने उन्हें कई मौके देकर बड़ी गलती की।


और स्पोर्ट्स खबरे:

“इन 5 खिलाडीयोको अब सन्यास लेना चाहिये” इंग्लंडसे बुरी तरह हारने के बाद सुनील गावसकरने टीम इंडिया के इन खिलाडी पर तसा कंजा…

वर्ल्डकप से बाहर होने के बाद अब टीम इंडिया करेगी इस देश का टूर, राहुल द्रविड को देना पड सकता है इस्तीफा.

Leave A Reply

Your email address will not be published.